Breaking News
Home / HOME / लंदन में इंडिया के ‘चिकन किंग’ खराब मांस सप्‍लाई की जांच के घेरे में

लंदन में इंडिया के ‘चिकन किंग’ खराब मांस सप्‍लाई की जांच के घेरे में

Spread the love

ब्‍यूरो
भारतीय मूल के उद्यमी रणजीत सिंह भोपरण का ‘2 सिस्टर्स फूड ग्रुप’ यूके का सबसे बड़ा पोल्ट्री सप्लायर है। फैक्ट्री में कथित सुरक्षा मानकों के उल्लंघन को लेकर अब देश की इस प्रसिद्ध कंपनी को संसदीय जांच का सामना करना पड़ेगा।

दरअसल, मीडिया के एक स्टिंग ऑपरेशन में फैक्ट्री के कर्मचारियों को कथित तौर पर पुराने पोल्ट्री को ताजे के साथ मिलाते दिखाया गया। यह मामला वेस्ट ब्रोमविक में स्थित कंपनी के प्लांट का है। गौरतलब है कि फैक्ट्री की ओर से टेस्को, सेंसबरीज, मार्क ऐंड स्पेंसर समेत कई बड़े सुपरमार्केट में चिकन की सप्लाई की जाती है। गार्डियन और आईटीवी न्यूज के फुटेज में दिखाया गया कि चिकन को फर्श से उठाकर प्रोडक्शन लाइन की तरफ फेंका जा रहा है।

फुटेज में फ्रेश और ओल्ड बर्ड को मिलाते हुए भी देखा गया। बता दें कि इस समूह में 23,000 कर्मचारी काम करते हैं। भोपरण ने 1993 में इस कंपनी की स्थापना की थी। उन्हें ‘चिकन किंग’ कहा जाता है। हाउस ऑफ कॉमंस की इन्वाइरनमेंट, फूड ऐंड रूरल अफेयर्स कमिटी के चेयरमैन नील पेरिश ने कहा कि वह पैनल के समक्ष भोपरण को बुलाने की तैयारी कर रहे हैं। पेरिश ने आगे कहा, ‘हमें खाद्य सुरक्षा और पशु-पक्षियों के कल्याण के साथ कंपनी द्वारा संचालित चिकन प्लांट्स को लेकर उपभोक्ताओं के भरोसे को भी बरकरार रखना है।’

यूके की फूड स्टैंडर्ड्स एजेंसी ने भी जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि मामले के सामने आने के बाद कुछ कंपनियों ने यहां से चिकन सप्लाई भी बंद कर दी है। उधर, कंपनी ने कहा है, ‘हमें सच्चाई सामने रखने के लिए पर्याप्त समय नहीं दिया गया और न ही विस्तृत जांच की कोशिश की गई। ऐसे में प्रतिक्रिया देना काफी मुश्किल हो जाता है।’

About admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

आधार से बैंक खाता जोड़ने का आदेश केन्‍द्र सरकार का है आरबीआई का नहीं

Spread the loveब्‍यूरो सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद आधार काे बैंक खाते से लिंक कराने ...